पहली चुदाई का नशा – पार्ट 3

वो- राज चलो बताओ , डरो मत मुझे अपनी दोस्त संमजकर बताओ.

मे- मॅडम मुझे शरम आ रही है

वो- शर्माने की क्या बात हे , अब हम दोस्त हे . हे ना?

मे- जी…. लेकींन…..

वो- अभी लेकींन वेकीन कुछ नही चलो बताओ.

वह बडे प्यार से बोल रही थी, तब मेरे को थोडा विश्वास हुवा और सोचा जाने दो ब्लॅक मे करके भी ये मेरे से क्या लेगी. मेने अब उसे बताना चालू किया.

मे- जी… वो मेरी बुवा की लंडकी हें ना रेखा उसके साथ किया

वो- क्या किया? (वो बडे प्यार से और आतुर्तासे पुछा)

मे – वो ..उसके साथ…

वो- हा बोलो…( उसके चेहरे पर आतरुता बढि दिख रही थी)

मे- जी वो मेने आज उसको चोदा.

Desi Hindi Sex Katha > चूतो का मेला और अकेला – 2

वो- अहाहा..क्या बात है ,मेरा दोस्त तो बडा शातिर निकला. क्या उमर है उसकी या ‘तेरी उमर की हे?

मे – जी वो शादी शुदा है.

वो- हाय दय्या!! तू तो मेने सोचा उससे भी आगे का निकला.

मुझे शर्म के मारे उसके तरफ देखणे की हिम्मत नही हो रही थी. तभी उसने पुछा फिर तुने वो गोलिया किसके लिये ली.

मेने शर्माके के बोला जी हमने कंडोम लगांये बिना ही सेक्स किया इसलीये. मेरी बात काटते हुवे वह बोली, अरे वो शादी शुदा हे तो क्या फरक पडता है. मेने रेखा की सारी हकीगत उसको बता दि. वो समजदार स्वरूप भाव चेहरे पे लाके बोली मे समज सकती हु!!! दो मिनिट के लिये हमने कुछ बोला नही, मेने अपनी चाय पी और सोफे से उठ कर बोला मॅडम अब मे जाता हु. मे दरवाजे तक गया तभी उसने मुजको आवाज दि . मे रुक गया और बोला ‘जी कहिये’.

उसने मुजसे कहा ‘मेरा और एक काम करोगे’. मेने आज्ञाधारी की तरह कहा जी काहिये मे करुंगा, लेकींन आप ये सब बात किसीं को मत बताना . उसने मुस्कुराके कहा यार दोस्त हु मे अब तेरी तेरा सिक्रेट वो मेरा सिक्रेट लेकींन मुजसे वादा कर मेरा ये काम जरूर करेंगा. मेने बोला मॅडम जी बोलो ना कुछ सामान लाने का हे क्या तुरंत लाके देता हु. अरे नही आजो इधर बेठो मे तूम्हे बताती हु.

Desi Hindi Sex Katha > चूत का कर्ज़

मे जाकर उसके बाजू मे बेठ गया , अब तक मेरा पुरा डर उसकी प्यारी बातो से निकल गया था. उसने कहा देखो राज मेरी एक जरूरत है उसको तुमको पुरा करना है. मेने कहा कैसी जरूरत. तब उसने सारी कहाणी बताना चालू किया. उसने कहा मेरी शादी को तीन साल हो गये है. लेकींन मेरे पती से मुझे बच्चा नही हो सकता. “मुझे तुमसे बच्चा चाहीये”. मे चोक गया और बोला “मॅडम जी आप लोग किसीं डॉक्टर को क्यो नही दिखाते”. मेरे मन मे एक तो लाड्डू फूट गये थे , और एक चुत का झुगाड हो गया था. मगर मेने उसको वेसा महसुस होणे नही दिया. उसने कहा उसका कोई फायदा नही, मेरा पती ” गे ” है. यह सूनतेही मेरे को बहुत बडा झटका लगा. इतनी सुंदर लंडकी और उसके नसिब मे क्या आया.

समाज के डर से अब हम अलग नही हो सकते और लोगोका मु बंद करने के लिये हमे बच्चा चाहीये . क्या तुम मेरी मदत करोगे. उसने अपेक्षा भरी निघाहो से पुछा. तभी मेने कहा लेकींन मे तो अभी कम उमर का हु तो कैसे होयेगा. उसने कहा अरे राजू मे मेडिकल के क्षेत्र मे हु . जब कोई लंडका वयस्क हो जाता हे तो वह किसीं भी औरंत को प्रेग्नेंट कर सकता हे. अब मेरी भी इच्छा वेसे तो थी ही तो मेने कहा ठीक है मॅडम लेकींन अगर आपके पती आ गये तो. तभी उसने कहा उसकी तुम चिंता मत करो. मे जब अंदर गयी चाय बनाने, तभी उनको मेने फोन कर के बता दिया था की , आज अपना काम करणे के लिये कोई मिला है , आप फोन करके ही आना.

Desi Hindi Sex Katha > अजनबी से मुलाकात, दोस्ती, प्यार और चुदाई – भाग २

तभी मेने ऊनसे पुछ लिया मॅडम आप इतनी सुंदर हो तो कोई भी आप के साथ सेक्स करणे को तयार हो जाता फिर मे ही क्यो. तभी उसने कहा देख राज वेसे तो बहुत लोग मेरे पे डोरे डालते है लेकींन , कोई भी उसका गलत फायदा ले सकता हे , मुझे बाद मे ब्लॅक मेल कर सकता है और बदनामी भी. हम लोगो का यह इलाके मे बडा नाम है. इसलीये मेने सोच लिया था, और तेरे जेसे ही कम आयु के लडके की खोज मे थी उसका फायदा यह की, कम उमर के कारण यह बात बता ने को झिजक करोगे. क्यो की छोटे उर्म के लंडके बडे औरत से संबंध होनेकीं बात हमेशा गोपनीय ही रखते है ऐसा मेरा और मेरे पती का मानना है. जब तुने आज मेरे से कंडोम मांगा तभी मेने सोचा था की तेरे से कुछ झुगाड करू. देखो राज यह बात हम दोनो के बीच ही रहेगी. मेरे पती भी नही जानना चाहते की मुझे होने वाले बच्चे का बाप कोन है. तूझें मेरे साथ सिर्फ आज से मेरी महावारी की तारीख आने तक यांनी की 12 दिन रोज संबंध बनाने पडेगा. मे तो मन ही मन सात वे आसमान पे था. आज से 12 दिन मुझे एक ऐसें हुसन की परी से चुदवाने मिलने वाला था जो की कभी मेने सपने मे भी नही सोचा था.

अब हम लोगोकी बाते लगभग हो गयी थी, तभी उसने कहा तो फिर चले , मे तो पहलेसे ही उसे चोदने को उतावला हो रहा था. मे ने बोला चलीये मॅडम. उसने मेरे गाल पे पप्पी लेते हुवे कहा , राज अब तू मुझे मॅडम मत बुलाव मेरा नाम पल्लवी है. उसके रसभरे होटो के स्पर्श से मेरा लंड फनफणा उठा. मेने भी अब पहल करना सुरू किया. उसको खडा कर मेने उसके होटो पे होट रख दिया. हमारे होट एक दुसरे के होटो मे समा गये , वो मेरा पुरा साथ दे रही थी, उसके साडी का पल्लू नीचे गीर गया मेने मेरा एक हात उसके गालोसे घुमाते हुवे नीचे ले गया, और उसके बडे बुब के उपर रखा और ब्लॉउज के उपर ही हलके हलके दबाने लगा. इस मेरी हरकत से उसका अंग अंग रोमांचित हो गया.

Desi Hindi Sex Katha > मेरी चूत को भाई के लंड से चुदने की तड़प



"saxy story""balatkar sex story""sex stories hindi""hindi sex""sex in holi"sex.stories"sexy story""desi xossip""रिश्तों में चुदाई""sex stories indian""hot sex stories""story of sex""antarvasna mami ki chudai""mastram sex story"saali"iss sex stories""hindi sex story bhai""chudai ki kahaniyan""sasur bahu chudai kahani""hindi sixe story""mastram sex story com""antervasna hindi""didi sex story hindi""sex kadhalu"antrvasana"indina sex""desi sexy story""www mastram net com""sex stories.net""gand chudai kahani""mast chudai""chudai ki stori""new indian sex stories""hindi sex story""indian hindi sex""hindi desi sex""sex hindi stories""didi ki chudai""indian sex storie""free indian sex stories""चूत की चुदाई""desi hindi sex story""best indian sex stories""hinde saxe store""sex story didi""sex with story""bhai behan ki chudai""sex with brother""free sex stories in hindi"antervasanaantarvashana"hindi sex kahani hindi""sexy kahani net""bhai bahan ki chudai""xxx stories indian""long sex stories""jija sali sex stories""hindi sex kahania"desikahani.netanterwasana"brother sister sex stories""sex stories india""new hindi sexy story"अंतरवासनाantsrvasna"bhai sex kahani""sexsi hindi kahani""hindi sex storirs"antaevasna"hindi sax story com""hindi sexi story""desi kahani.net"antsrvasna"chudayi ki kahani hindi me""sexy kahania""sasur bahu sex story"